एक वैश्विक परिप्रेक्ष्य
वित्तीय शिक्षा के माध्यम से जीवन को बेहतर बनाते हुए

वित्तीय साक्षरता जीवन स्तर और जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए विभिन्न वित्तीय कौशल की शिक्षा, ज्ञान और समझ है। इसमें यह समझने की क्षमता शामिल है कि वास्तविक दुनिया में पैसा कैसे काम करता है: कैसे कोई कमाता है या उपार्जन करता है, वह व्यक्ति कैसे उसका प्रबंधन करता है, वह कैसे और कहाँ निवेश करता है, और वह व्यक्ति कैसे बचत करता है या दूसरों की सहायता के लिए दान करता है। विशेष रूप से, यह उन कौशल और ज्ञान के तरीकों को संदर्भित करता है जो किसी व्यक्ति को अपने सभी वित्तीय संसाधनों के संबंध में जानकार, प्राज्ञ और प्रभावी निर्णय लेने की क्षमता प्रदान करते हैं।

Financial.org लोगों के जीवन में सुधार लाने के लिए जीवनकालीन वित्तीय शिक्षा के रूप में परिचित गुच्छे में जानकारी और वित्तीय कौशल के तरीकों के साथ क्षमता, संकल्पना, ज्ञान और समझ को शामिल करता है।

ऑस्ट्रेलियाई प्राधिकरण ने वित्तीय शिक्षा 2000 से ही शुरू कर दी थी

ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने 2004 में राष्ट्रीय उपभोक्ता और वित्तीय साक्षरता टास्कफोर्स की स्थापना की, जिसने 2005 में वित्तीय साक्षरता फाउंडेशन की स्थापना की अनुशंसा की। 2011 में एएसआईसी (ऑस्ट्रेलियाई प्रतिभूति और निवेश आयोग) ने राष्ट्रीय वित्तीय साक्षारता रणनीति (www.financialliteracy.gov.au) जारी की - एएसआईसी की एक पहले की अनुसंधान रिपोर्ट 'वित्तीय साक्षरता और व्यावहारिक बदलाव' द्वारा सूचित - वित्तीय साक्षरता स्तरों में सुधार द्वारा सभी ऑस्ट्रेलियाईयों के वित्तीय कल्याण में सुधार के लिए। इस रणनीति के चार स्तंभ हैं:

  1. शिक्षा
  2. विश्वसनीय और स्वतंत्र जानकारी, उपकरण और समर्थन
  3. उन्नत वित्तीय कल्याण और व्यावहारिक बदलाव में वृद्धि के लिए अतिरिक्त समाधान
  4. वित्तीय साक्षरता के साथ शामिल क्षेत्रों के साथ भागीदारियाँ, उसके प्रभाव को मापते हुए और सर्वश्रेष्ठ प्रविधियों का संवर्धन करते हुए

सिंगापुर 2007 से ही अपने नागरिकों की वित्तीय शिक्षा पर निवेश कर रहा है

सिंगापुर में, विद्यार्थियों को शिक्षा से जोड़ने के लिए शैक्षणिक दृष्टि से बढ़िया गतिविधियों को सन्निहित करने के लिए मूल पाठ्यक्रम के विषयों में वित्तीय साक्षरता देने के लिए स्कूल शिक्षकों को सशक्त करने के लिए राष्ट्रीय शिक्षण संस्था ने 2007 में शिक्षकों के लिए पहला वित्तीय साक्षरता केंद्र स्थापित किया। सिंगापुर सरकार ने मौद्रिक प्राधिकरण सिंगापुर के माध्यम से वित्तीय साक्षरता संस्थान की स्थापना के लिए जुलाई 2012 में वित्त पोषण किया।संस्था का उद्देश्य कामकाजी व्यसकों और उनके परिवारों को मुफ्त और निष्पक्ष वित्तीय शिक्षा कार्यक्रम प्रदान कर सिंगापुर की आबादी के हर तबके में मूल वित्तीय क्षमताओं का निर्माण करना है।

एक सम्मानित सऊदी निगम ने 2012 में वित्तीय शिक्षा शुरू की

सऊदी अरब में, सऊदी आर्थिक और विकास कंपनी, एसईडीसीओ ने लोगों को उनके पैसे का प्रबंधन ज़्यादा प्रभावी रूप से सिखाने और पैसे को एक अनंत संसाधन समझने की उनकी धारणा को बदलने के लिए एक कार्यक्रम की अत्यावश्यक ज़रूरत के जवाब में 2012 में एक कार्यक्रम आरंभ किया जो कि इस ज़रूरत का संबोधन करता है। रियाली नामक इस प्रमुख कार्यक्रम के माध्यम से, सऊदी अरब के विभिन्न तबके के 50,000 नागरिक जिनमें कॉलेज विद्यार्थी, हाई स्कूल विद्यार्थी, और कम-औसत आय समूह शामिल हैं, बुनियादी वित्तीय कौशल सीखते हैं जैसे कि बजटिंग, बचत, निवेश और अन्य मुख्य क्षमताएँ जिनकी आवश्यकता दैनिक जीवन में अच्छे वित्तीय निर्णय लेने में होती है।

अमेरिकियों को पहले से ज़्यादा वित्तीय शिक्षा की जरूरत है

अमेरिकी ट्रेजरी ने 2002 में अपने वित्तीय शिक्षा कार्यालय की स्थापना की; और अमेरिकी काँग्रेस ने 2003 में वित्तीय साक्षरता और शिक्षा सुधार अधिनियम के तहत वित्तीय साक्षरता और शिक्षा आयोग की स्थापना की। आयोग ने 2006 में वित्तीय साक्षरता पर अपनी राष्ट्रीय रणनीति प्रकाशित की। अपने सभी प्रयासों के लिए, वित्तीय साक्षरता परिषद और आर्थिक शिक्षा परिषद द्वारा किए गए हाल ही के सर्वेक्षणों में पाया गया कि 58% अमेरिकियों के पास उनके वित्त का प्रबंध करने और सही से निवेश करने के लिए पर्याप्त वित्तीय कौशल और समझ नहीं है।


संयुक्त राष्ट्र अमरीका कई करोड़पतियों और अरबपतियों का घर है, लेकिन हाल के सर्वेक्षणों के मुताबिक, वित्तीय ज्ञान और साक्षरता के मामले में औसत अमरिकी पीछे रह जाते हैं। एक राष्ट्र के रूप में अमरीका का चालू खाता घाटा, नंबर 1 पर है और मार्च 2018 तक 20 ट्रिलियन डॉलर से अधिक के कुल ऋण के साथ यह हर साल बढ़ता जा रहा है। इससे पता चलता है कि अमरीकी नागरिक, व्यवसाय और सरकार कितना पिछड़ रहे हैं और अपने विदेशी समकक्षों से उधार ले रहे हैं। इस प्रकार, यह कहना उचित है कि आम तौर पर अमरीकियों को निस्संदेह बुनियादी वित्तीय शिक्षा, ज्ञान और मनोदशा की सख्त आवश्यकता है।

संयुक्त राष्ट्र: 2000 के बाद से सामाजिक और आर्थिक विकास में वित्तीय साक्षरता आवश्यक है

संयुक्त राष्ट्र द्वारा वित्तीय शिक्षा को समर्थन और वित्तीय साक्षरता के गुणों पर प्रकाश डालने का एक लंबा इतिहास रहा है। संयुक्त राष्ट्र के सहस्त्राब्दी विकास लक्ष्यों का विकास सभी देशों और विश्व की शीर्ष विकास संस्थाओं द्वारा सहमत रोडमैप और रणनीति के लिए नींव के रूप में किया गया था। इन लक्ष्यों ने सरकारों, एनजीओ, निगमों, संघों, शिक्षाविदों और अन्य महत्वपूर्ण खिलाड़ियों को साथ ला कर वित्तीय साक्षरता पर स्पष्ट एजेंडा का विकास करने और आगे बढ़ने के असाधारण प्रयासों को गति प्रदान की है।

यूएन में वित्तीय साक्षरता के समर्थक अनेक विकसित और तीसरी दुनिया में उन हज़ारों लाखों व्यक्तियों और परिवारों के लिए वित्तीय असफलताओं को रोकने में सहायता करने के प्रयासों के लिए तेज़ी से आगे की ओर बढ़ रहे हैं जो कि वित्तीय ज्ञान और शिक्षा के उनके अभाव के कारण अधिक वित्तीय तनाव से असुरक्षित हैं।

धन असमानता का अंतर – पहले से कहीं ज्यादा बड़ा है

पिछले 20 वर्षों में पूरी दुनिया में वैश्वीकरण ने कई लाभों और साथ ही नुकसानों की उत्पत्ति की है। सबसे बड़े मुद्दों में से एक धन की असमानता है जो किसी अपवाद के बिना हर वर्ष विस्तारित होता रहा है। आज दुनिया के सबसे अमीर 1%, 80% धन का नियंत्रण करते है। ये 1% तथाकथित हाई-नेट-वर्थ व्यक्ति (HNWI) और अल्ट्रा-हाई-नेट-वर्थ व्यक्ति (UHNWI) हैं जो इक्विटी पूंजी बाजार के माध्यम से वर्ष दर वर्ष सफलतापूर्वक अपनी वित्तीय संपत्ति और निवेश का प्रबंधन करते चले आ रहे हैं। इस प्रकार, वे अमीर और अधिक शक्तिशाली बने रहते हैं जबकि बाकी दुनिया स्थिर रहती है या पीछे की ओर जाती है।

आज 2 अरब मध्यम आय वर्ग के साथ-साथ दुनिया के 3 अरब से अधिक गरीब लोगों के बारे में हम ऐसा नहीं कह सकते हैं। इनमे से अधिकांश को वैश्विक पूंजी बाजारों तक पहुँचने का वास्तविक अवसर कभी भी नहीं मिला है। हालांकि, हाल के वर्षों में, वित्तीय शिक्षा के महत्व की जागरूकता दुनिया भर की कई उभरती और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में नीति रचनाकारों के बीच गति प्राप्त कर रही है।

डाउनलोड के लिए उपलब्ध है
डाउनलोड के लिए उपलब्ध है
आज ही हमारे आधिकारिक मोबाइल ऐप डाउनलोड करें।
Financial.org एक शैक्षणिक मंच है। हम प्रतिभूतियों के साथ लेनदेन नहीं करते हैं और वित्तीय उत्पाद और सेवा प्रदाताओं से कोई वित्तीय लाभ प्राप्त नहीं करते हैं।
सर्वाधिकार सुरक्षित © 2016 - 2018